काव्यशाला पृष्ठ 4 | मातृभाषा - माँ भारती का श्रृंगार | Hindi Poems

कालजयी कविताएँ

हिंदी साहित्य की कालजयी कविताओं का संकलन





नामवर सिंह

उनये उनये

नामवर सिंह

शांत रस | आधुनिक काल

 856  0

फणीश्वर नाथ रेणु

गत मास का साहित्य

फणीश्वर नाथ रेणु

शांत रस | आधुनिक काल

 764  0

केदारनाथ सिंह

शाम बेच दी है

केदारनाथ सिंह

अद्भुत रस | आधुनिक काल

 1051  0

गजानन माधव 'मुक्तिबोध'

ब्रह्मराक्षस

गजानन माधव 'मुक्तिबोध'

अद्भुत रस | आधुनिक काल

 999  0

हरिवंश राय बच्चन

कोई पार नदी के गाता

हरिवंश राय बच्चन

शांत रस | आधुनिक काल

 1751  0

प्रदीप

होने लगा है मुझ पे जवानी का असर

प्रदीप

अद्भुत रस | आधुनिक काल

 1004  0

नरेन्द्र शर्मा

कुछ भी बन बस कायर मत बन

नरेन्द्र शर्मा

वीर रस | आधुनिक काल

 13551  0

रहीम

जाति हुती सखी गोहन में

रहीम

शृंगार रस | भक्तिकाल

 2282  0

फणीश्वर नाथ रेणु

यह फागुनी हवा

फणीश्वर नाथ रेणु

शांत रस | आधुनिक काल

 1084  0

कुमार विश्वास

सफ़ाई मत देना

कुमार विश्वास

शृंगार रस | आधुनिक काल

 6301  0

सोम ठाकुर

लौट आओ

सोम ठाकुर

शृंगार रस | आधुनिक काल

 3210  1

उर्मिलेश

मौसम की चोट

उर्मिलेश

करुण रस | आधुनिक काल

 2404  1

अटल बिहारी वाजपेयी

झुक नहीं सकते

अटल बिहारी वाजपेयी

वीर रस | आधुनिक काल

 19023  3

महाकवि बिहारीलाल

है यह आजु बसन्त समौ

महाकवि बिहारीलाल

शृंगार रस | रीतिकाल

 2500  0

शिवमंगल सिंह 'सुमन'

सहमते स्वर-4

शिवमंगल सिंह 'सुमन'

शांत रस | आधुनिक काल

 881  0

तुलसीदास

मैं केहि कहौ बिपति अति भारी

तुलसीदास

अद्भुत रस | भक्तिकाल

 2218  1

रामधारी सिंह 'दिनकर'

रात यों कहने लगा मुझसे गगन का चाँद

रामधारी सिंह 'दिनकर'

वीर रस | आधुनिक काल

 6355  2

तुलसीदास

मैं हरि, पतित पावन सुने

तुलसीदास

अद्भुत रस | भक्तिकाल

 1982  0

कुमार विश्वास

खुद को आसान कर रही हो ना

कुमार विश्वास

शृंगार रस | आधुनिक काल

 4375  0

अयोध्या सिंह उपाध्याय ‘हरिऔध’

सरिता

अयोध्या सिंह उपाध्याय ‘हरिऔध’

अद्भुत रस | आधुनिक काल

 949  0

त्रिलोचन

एक लहर फैली अनन्त की

त्रिलोचन

शांत रस | आधुनिक काल

 821  0

कुमार विश्वास

प्यार जब जिस्म की चीखों में दफ़न हो जाए

कुमार विश्वास

अद्भुत रस | आधुनिक काल

 1490  1

गुलज़ार

सपना रे सपना

गुलज़ार

शांत रस | आधुनिक काल

 935  0

केशव

चौहूँ भाग बाग वन

केशव

अद्भुत रस | रीतिकाल

 1022  0

महादेवी वर्मा

क्यों इन तारों को उलझाते

महादेवी वर्मा

शृंगार रस | आधुनिक काल

 2964  0

शिवमंगल सिंह 'सुमन'

सांसों का हिसाब

शिवमंगल सिंह 'सुमन'

अद्भुत रस | आधुनिक काल

 1230  0

कुँअर बेचैन

दो दिलों के दरमियाँ 

कुँअर बेचैन

शांत रस | आधुनिक काल

 872  0

फणीश्वर नाथ रेणु

अपने ज़िले की मिट्टी से

फणीश्वर नाथ रेणु

वीर रस | आधुनिक काल

 4718  0

अयोध्या सिंह उपाध्याय ‘हरिऔध’

जन्‍मभूमि

अयोध्या सिंह उपाध्याय ‘हरिऔध’

शांत रस | आधुनिक काल

 952  0

रामधारी सिंह 'दिनकर'

परदेशी

रामधारी सिंह 'दिनकर'

करुण रस | आधुनिक काल

 2879  0




  परिचय

"मातृभाषा", हिंदी भाषा एवं हिंदी साहित्य के प्रचार प्रसार का एक लघु प्रयास है। "फॉर टुमारो ग्रुप ऑफ़ एजुकेशन एंड ट्रेनिंग" द्वारा पोषित "मातृभाषा" वेबसाइट एक अव्यवसायिक वेबसाइट है। "मातृभाषा" प्रतिभासम्पन्न बाल साहित्यकारों के लिए एक खुला मंच है जहां वो अपनी साहित्यिक प्रतिभा को सुलभता से मुखर कर सकते हैं।

  Contact Us
  Registered Office

47/202 Ballupur Chowk, GMS Road
Dehradun Uttarakhand, India - 248001.

Tel : + (91) - 7534072808
Mail : info@maatribhasha.com